नेशनल प्रोजेक्ट आन रिण्डरपेस्ट सर्विलान्स एण्ड मानीटरिंग

 

(100 प्रतिशत केन्द्र पोषित)

योजना का उद्देश्य

       यह 100 प्रतिशत केन्द्र पुरोनिधानित योजना है। भारत सरकार द्वारा प्रदेश के पोकनी रोग से मुक्त (प्रोविजनल) घोषित किया गया है। परन्तु पूरे प्रदेश में रिण्डरपेस्ट जैसी घातक बीमारी  का पुनः प्रकोप न होने के उद्देश्य से रूट सर्च एवं बिलेज सर्च का कार्य किया जा रहा है। जिससे बीमारी पुनः उत्पन्न न होने पाये। इसके लिये रोग से ग्रस्त सम्भावित पशुओं को डे-बुक रजिस्टर में अंकित करना तथा पशुओं पर व्यापक निगरानी रखने का कार्यक्रम चलाया जा रहा है।  आर0 पी0 रोग वर्तमान समय में नही है, परन्तु यह रोग वायरस द्वारा फैलने वाला बहुत ही भयानक रोग है, जिसके संचारित होने की सदैव सम्भावना बनी रहती है] इसलिये इस पर प्रभावी नियंत्रण बनाये रखना आवश्यक है। इस कार्यक्रम के अन्तर्गत निर्धारित प्रारूपों पर रिपोर्ट भारत सरकार को प्रतिमाह भेजी जाती हैं।

 

योजना का कार्य स्थल  %    सम्पूर्ण उत्तर प्रदेश

 

योजना का संचालन

 

         यह योजना भारत सरकार द्वारा 100 प्रतिशत वित-पोषित है।

 

         पशुचिकित्सा अधिकारियों द्वारा अपने पशुचिकित्सालय की परिधि में सम्भावित पोंकनी रोग से ग्रसित पशुओं पर व्यापक निगरानी एवं उसका निरन्तर अनुश्रवण करने का कार्य किया जाता है।

 

         पशुचिकित्सालय की परिधि में पड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्गों पर भी विचरण करने वाले पशुओं में भी व्यापक निगरानी एवं अनुश्रवण करने का कार्य भी किया जाता है।    

 

         इस रोग की रिपोर्ट निर्धारित प्रारूप पर भारत सरकार को प्रतिमाह भेजी जाती हैं।

 

 

   अधिक जानकारी हेतु सम्पर्क करें -   डा00यू0 खान

                                                             संयुक्त निदेशक, रोग नियन्त्रण

                                                             निदेशालय, पशुपालन विभाग

                                                             0प्र0 लखनऊ, मो0- 9415150370